Complete Details

बोला मासूम, फूफा ! मम्मी-पापा को ट्रक ने

Category

Others

Posting Date:

News Reporter:

अमर उजाला

Details


नेशनल हाईवे से सटे स्वागत होटल के निकट शुक्रवार की देर रात करीब ढाई बजे मासूम बेटे के साथ बस से उतर कर रिश्तेदार के यहां पैदल जा रहे दंपति को बेकाबू ट्रक ने कुचल दिया। दंपति की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि मासूम बालक बाल-बाल बचा। हादसे में माता-पिता को खो चुके बालक ने साहस दिखा कर रात में ही भानपुर खालसा स्थित अपनी बुआ के घर पहुंच कर हादसे की जानकारी दी तो परिजनों के होश उड़ गए। आनन-फानन में घटनास्थल पहुंचे परिजन एंबुलेंस से शव सीएचसी ले गए और पुलिस बुला ली। हादसे के बाद से ही चालक ट्रक लेकर फरार है। पुलिस ट्रक को तलाश करने में जुट गई है। जनपद अमरोहा के थाना आदमपुर क्षेत्र के गांव काई मुस्तकमपुर निवासी मनोज (24) पुत्र जयपाल पटवारी सराय नई दिल्ली में पत्नी सरिता (24) और छह वर्षीय के बेटे करन के साथ किराये के मकान में रह कर रूकलैंड हास्पिटल में ठेकेदारी पर काम करता है। गजरौला से सटे गांव भानपुर खालसा में मनोज की बहन सुनीता पत्नी वीर सिंह रहती है। परिजनों के मुताबिक शुक्रवार की देर रात करीब ढाई बजे अपनी पत्नी और बेटे के साथ बस से अपनी बहन के घर आ रहा था। चौपला से बस से उतरा था। तीनों पैदल ही भानपुर खालसा की ओर चल दिये। स्वागत होटल के निकट पहुंचे ही थे। उसी समय दिल्ली की ओर से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने मनोज और उसकी पत्नी सरिता को कुचल दिया। दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि बेटा करन बाल-बाल बचा। हादसे के बाद चालक ट्रक लेकर भाग निकला। चहुंओर सड़क पर सन्नाटा पसरा था। उसी समय मासूम करन ने साहस दिखाया और सड़क पर लहूलुहान पड़े माता-पिता को वहीं छोड़ कर पैदल ही भानपुर खालसा अपनी बुआ सुनीता के घर पहुंचा। फूफा और बुआ को हादसे की जानकारी देते हुए बताया कि उसके माता-पिता को ट्रक ने कुचल दिया है। जानकारी सुन कर करन का फूफा वीर सिंह कुछ लोगों के साथ घटनास्थल पहुंच गया और दंपति को एंबुलेंस में डाल कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। जहां चिकित्साधिकारी ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक मनोज के बड़े भाई बागेश ने अज्ञात ट्रक चालक के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ट्रक को तलाश करने में जुट गई है।
Anm Infotech | Official Website